दंतेवाड़ा की घटना:नक्सलियों ने हत्या कर शव सड़क पर फेंका; सीएएफ जवान होने की आशंका, कैंप से भाग निकला था

  • बारसूर थानाक्षेत्र के बोदली और करियामेटा के बीच शव मिला, अभी पहचान नहीं
  • सुरक्षाबलों को घटनास्थल के लिए रवाना किया गया, दो दिन से लापता था जवान

छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा में नक्सलियों ने एक व्यक्ति की हत्या कर उसका शव सड़क पर फेंक दिया। आशंका जताई जा रही है कि शव दो दिन से लापता सीएएफ (छत्तीसगढ़ आर्म्ड फोर्स) जवान का हो सकता है। हालांकि, अभी तक शव की शिनाख्त नहीं हो सकी है। सूचना मिलने के बाद सुरक्षाबलों को घटनास्थल पर रवाना किया गया है।

बारसूर थानाक्षेत्र के बोदली और करियामेटा के बीच मंगलवार सुबह पुलिस को सड़क पर शव पड़े होने की सूचना मिली थी। इसके बाद सुरक्षाबलों को मौके पर रवाना किया गया है। शव सीएएफ जवान कांकेर निवासी कर्णेश्वर नेताम का होने की आशंका जताई जा रही है। हालांकि, एसपी अभिषेक पल्लव ने इसकी पुष्टि नहीं की है।

जवान की बोदली कैंप में 7-8 दिन पहले हुई थी पोस्टिंग
बताया जा रहा है कि सीएएफ जवान कर्णेश्वर नेताम की करीब 7-8 दिन पहले बोदली कैंप में पोस्टिंग हुई थी। वह दो दिन पहले बिना किसी को बताए कैंप छोड़कर भाग निकला। इसके बाद से उसका कुछ पता नहीं चल रहा था। आशंका जताई जा रही थी कि नक्सली उसको अगवा कर ले गए हैं। इसके बाद अब किसी व्यक्ति का शव मिलने की बात सामने आई है।

0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post

RVKD NEWS

Ads1

Facebook

Ads2