रिकवरी के मामले में छत्तीसगढ़ नीचे से दूसरे पायदान पर; राज्य में एक्टिव केस 23685, ठीक होने वाले सिर्फ 53.2 फीसदी


  • प्रदेश में अब तक 45263 पॉजिटिव मिले, इसमें से ठीक हुए 21198
  • हमसे नीचे सिर्फ मेघालय, जबकि पड़ोसी राज्यों की स्थिति बेहतर कोरोना से लड़ाई में छत्तीसगढ़ जितना फ्रंट फुट पर बढ़कर खेल रहा था, अब पिछड़ता जा रहा है। इतना ज्यादा पिछड़ रहा है कि देश के सबसे खराब राज्यों में दूसरे पायदान पर पहुंच गया है। आंकड़ों की बात करें तो प्रदेश में अभी तक 45263 संक्रमित मिले हैं। इनमें से ठीक होने वालों की संख्या महज 21198 यानी रिकवरी रेट 53.2% है। हमसे नीचे नार्थ ईस्ट का छोटा सा राज्य मेघालय ही है।

पड़ोसी राज्यों की स्थिति

  • मध्यप्रदेश में 76.3%
  • ओडिशा में 75. 8%
  • आंध्रप्रदेश में 76.4%
  • महाराष्ट्र में 72. 3%

37 दिनों में 36072 संक्रमित मरीज बढ़ गए प्रदेश में
छत्तीसगढ़ में अगस्त में संक्रमित मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ी है। 31 जुलाई तक जहां पॉजिटिव 9191 थे, वहीं 31 अगस्त तक यह बढ़कर 31502 के पार पहुंच गए। सितंबर के 6 दिनों में भी रिकार्ड वृद्धि दर्ज की गई है। अकेले रविवार को 2100 नए केस आए, जबकि 24 मौतें हुई हैं। यह आंकड़ा 24 घंटे में सबसे ज्यादा मौतों का है। प्रदेश में अभी 23685 एक्टिव केस हैं। वहीं 380 लोगों की मौत हो चुकी है।

प्रदेश में कोरोना की स्थिति

  • पिछले 10 दिनों से 6% से ज्यादा की रफ्तार से बढ़ रहे मरीज
  • प्रदेश में हर 10 लाख की आबादी में 1097 पॉजिटिव मिल रहे
  • राष्ट्रीय स्तर पर यह संख्या 2801 है
  • अभी प्रत्येक 10 लाख की आबादी पर 20280 टेस्ट हो रहे हैं
  • प्रदेश में टेस्ट पॉजिटिव रेट 5.4% है, जो कि राष्ट्रीय औसत का 8.6% है

रायपुर में सबसे ज्यादा मरीज, मौतें भी यहीं
राजधानी रायपुर की स्थिति कोरोना संक्रमण को लेकर बिगड़ती ही जा रही है। पूरे प्रदेश में सबसे ज्यादा मरीज यहीं पर मिले हैं और मौतों का आंकड़ा भी सबसे ज्यादा यहीं है। अब तक 16212 संक्रमित मिल चुके हैं। इनमें से 9574 एक्टिव केस हैं। वहीं मौत का आंकड़ा 200 पर पहुंच गया है। हालांकि स्वास्थ्य विभाग कोविड से सिर्फ 73 मौतों की बात कहता है। 6438 मरीज स्वस्थ भी हुए हैं।

लॉकडाउन खुलने से प्रदेश में बढ़ा संक्रमण
प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव कहते हैं, लॉकडाउन खुलने के बाद संक्रमण की स्थिति बढ़ी है। आवागमन बढ़ा, आयोजनों में लोगों के शामिल होने से संक्रमण फैला है। हालांकि वे यह भी कहते हैं कि कंटेनमेंट जोन और जहां ज्यादा मरीज मिले, वहां टेस्टिंग बढ़ाई गई। इसके चलते पॉजिटिव की संख्या बढ़ी। स्वास्थ्य मंत्री उम्मीद जताते हैं कि आने वाले समय में संक्रमण की स्थिति थमेगी और उसमें कमी भी आएगी।

0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post

RVKD NEWS

Ads1

Facebook

Ads2