दुर्ग में आनंद राठी सुसाइड केस:राठी पर छेड़खानी का आरोप लगाने वाली महिला ने पहले भी ब्लेकमेलिंग की थी, पति जेल में बंद; अब कारोबारी को फंसाने का प्लान था

दुर्ग में स्टील कारोबारी आनंद राठी के आत्महत्या वाले दिन घर के बाहर हंगामा कर रही महिला और उसके साथी पत्थर फेंकते हुए सीसीटीवी में दिखाई दिए।- फाइल फोटो।
  • स्टील कारोबारी आत्महत्या मामले में गिरफ्तार युवती जूहिता ने अपने मालिक पर भी दुष्कर्म का आरोप लगाया था
  • साथ में पकड़े गए दोनों आरोपी युवकों पर भी लूट समेत अन्य मामले दर्ज हैं, गैंग बनाकर तीनों वारदात करते थे

दुर्ग के स्टील कारोबारी आनंद राठी सुसाइड केस में एक नई कहानी सामने आई है। गिरफ्तार आरोपियों में महेंदर सिंह और विक्की सिंह पर पहले से लूट और मारपीट के केस दर्ज हैं। वहीं, महिला जूहिता चावड़ा भी अपने मालिक पर छेड़छाड़ का झूठा केस दर्ज करवा कर 50 हजार रुपए ऐंठ चुकी है। अब वह कारोबारी राठी को भी फर्जी केस में फंसाने की कोशिश कर रही थी।

पुलिस जांच में यह भी पता चला है कि राजनांदगांव निवासी जूहिता का पति जैस चावड़ा पर नाबालिग से दुष्कर्म का आरोप है। वह इस मामले में पॉक्सो के तहत जेल में बंद है। वहीं, जूहिता जिस बाड़ी में काम करती थी, उसके मालिक के खिलाफ भी छेड़छाड़ का केस राजनांदगांव के लालबाग थाने में दर्ज कराया था। इसके बाद उसने केस को खत्म करने के लिए बाड़ी मालिक से 50 हजार रुपए वसूले थे।

थाने से लौटते वक्त कारोबारी को भी फंसाने की कोशिश की
थाना प्रभारी राजेश बागड़े ने बताया कि 28 जुलाई की रात जूहिता लालबाग थाने में केस दर्ज कराकर लौट रही थी। रास्ते में आनंद राठी से विवाद होने पर उसने छेड़छाड़ और कपड़े फाड़ने का झूठा आरोप लगा दिया। इसको लेकर भी पूछताछ की जा रही है। साथ ही केस दर्ज कराने की धमकी दी। जांच में आनंद को आत्महत्या के लिए उकसाने की पुष्टि होने पर सभी को गिरफ्तार किया गया है।

चाचा शिकायत लेकर सुबह 4 बजे थाने पहुंचे तो लौटाया
रात को आनंद से विवाद होने के बाद उनके चाचा और चैंबर ऑफ कॉमर्स के दुर्ग अध्यक्ष अशोक कुमार राठी सुबह 4 बजे शिकायत लेकर थाने पहुंचे। उस दौरान अधिकारियों के गश्त पर होने की बात कहकर उन्हें लौटा दिया गया। अशोक राठी ने शिकायत में बताया है कि तीनों आरोपियों ने आनंद से गाली-गलौज की। जब आनंद घर में चला गया तो बाहर लिखे नंबरों पर कॉल कर भी अश्लील शब्द कहे थे।

घटना के बाद आनंद घबरा गया, पत्नी को मैसेज किया था
इस पूरी घटना के बाद आनंद काफी डरे हुए थे। उन्हें लग रहा था कि महिला ने एफआईआर कराई तो उनकी समाज में बदनामी होगी। परिवार के लोगों ने आनंद को समझाया कि सीसीटीवी में भी ऐसा कुछ नहीं है। उसने कुछ गलत नहीं किया है। वहीं सुबह 4.46 बजे आनंद की पत्नी को वॉट्सऐप पर अंग्रेजी में मैसेज मिला, 'इस दुनिया को छोड़ना मेरी गलती नहीं थी। हमेशा तुमसे प्यार करूंगा।'

0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post

RVKD NEWS

Ads1

Facebook

Ads2