राजधानी में कोरोना:शहर के हर मोहल्ले-कालोनियों से निकल रहे कोरोना मरीज, सिर्फ 14 दिन में हजार से ज्यादा केस

राजधानी में पिछले दो हफ्ते में कोरोना मरीजों की बाढ़ आ गई है। अफसरों के मुताबिक टेस्ट बढ़ा दिए गए हैं, इसलिए इतने मरीज सामने आ रहे हैं। हालात ये हैं कि अब राजधानी का कोई मोहल्ला या कालोनी नहीं बची है, जहां कोरोना के केस न मिले हैं। भास्कर ने राजधानी में 15 से 28 अगस्त के बीच 14 दिन के मरीजों के आंकड़ों का विश्लेषण किया और पाया कि केवल 6 एरिया में ही 1000 से ज्यादा मरीज निकल गए हैं। इनमें समता कॉलोनी-रामकुंड, शंकरनगर, देवेंद्रनगर, शास्त्री चौक के ईद-गिर्द, मोवा, अमलीडीह और पचपेड़ीनाका शामिल हैं, जहां औसतन 150-150 से ज्यादा मरीज मिल चुके हैं। शहर की 30 कॉलोनियां ऐसी हैं जहां 50-50 या ज्यादा मरीज मिले हैं। इन आंकड़ों से प्रशासन भी बेचैन है। अफसरों का कहना है कि कोरोना संक्रमण फैल गया है, इसलिए लोगों को अब ज्यादा सतर्क रहने की जरूरत है। प्रशासन की ओर से जारी दो हफ्ते के इन आंकड़ों की गहन पड़ताल से यह बात भी सामने आई कि इस दौरान रायपुर जिले में करीब साढ़े 4 हजार मरीज मिले, लेकिन इनमें 80 फीसदी राजधानी और आउटर से हैं। जहां तक रायपुर का हाल है, पिछले कुछ दिन से यहां रोजाना औसतन 500 मरीज मिल रहे हैं और यह संख्या एक-दो बार 600 के पार हो चुकी है। पिछले दो हफ्ते में समता कॉलोनी-रामकुंड एरिया में 162 एक्टिव मरीज मिले, इसी तरह शंकर नगर में 151, देवेंद्रनगर 149, मेडिकल कॉलेज के आसपास एरिया में 138, पचपेड़ी नाका 137, अमलीडीह में 118, मोवा में 113, टैगौर नगर 110 व अवंति विहार में 100 मरीज मिले हैं। इस एरिया में लगभग हर प्रमुख सड़क-गली में 4 से 5 एक्टिव केस हैं।

35 मोहल्ले-कॉलोनियों में 100 तक केस मिले
शहर के तेलीबांधा कॉलोनी में 87, कटोरा तालाब में 86, कोटा में 76, फाफाडीह में 76, डंगनिया में 75, सड्डू-दलदल सिवनी- 75, भाठागांव- 75, जेल गृह मार्ग-72, एम्स-आमानाका- 72, राजेंद्रनगर-69, प्रोफेसर कॉलोनी- 60, टाटीबंध-59, चंगोराभाठा-55 कबीर नगर- 52, रामसागर पारा- 49, खमतराई-49, रायपुरा- 48, गुढ़ियारी- 47, सदर बाजार- 46, आमापारा- 46, पुरानी बस्ती- 45, लोधीपारा-पंडरी- 42, राजातालाब-41, खम्हारडीह- 41, बैरन बाजार-40, मठपुरैना- 35, संजय नगर-34, कांशीराम नगर-34, अश्वनी नगर- 34, कचना-33, मौदहापारा 31, रामेश्वर नगर- 32, बैजनाथपारा और गंज-30 तथा हीरापुर-बिरगांव एरिया में 100 से ज्यादा मरीज मिल चुके हैं।
युवाओं में संक्रमण बढ़ने लगा तेजी से
दो हफ्ते के आंकड़ों पर नजर डाली जाए तो राजधानी में अब कोरोना संक्रमण युवाओं को अपनी गिरफ्त में ले रहा है। इससे पहले तक 50 या अधिक उम्र के लोग ज्यादा प्रभावित हो रहे थे। पिछले दो हफ्ते में जितने मरीज मिले, उनमें से 1088 की उम्र केवल 21-30 वर्ष है। यहीं नहीं, 31 से 40 साल के बीच के लोगों को भी युवा मान सकते हैं और इनमें संक्रमित होने वाली की संख्या 1085 हो गई है। यानी 14 दिन में लगभग 2172 मरीजों की उम्र 21 से 40 वर्ष के बीच है। इसी तरह, शून्य से 10 साल वाले मरीजों की संख्या केवल 15 है। शहर में 11 से 20 साल की उम्र के 342 संक्रमित हुए हैं। उधर, 41 से 50 साल के 807 मरीज, 51 से 60 के उम्र के 621 मरीज, 71 से 80 उम्र के 105 केस सामने आ चुके हैं।

0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post

RVKD NEWS

Ads1

Facebook

Ads2