कवर्धा में LIC का मैनेजर कोविड पॉजिटिव, संपर्क में आए एजेंट सहित 38 लोग होम आइसोलेट, ऑफिस किया सील

कवर्धा. कवर्धा शहर में राजनंादगंाव से आए एलआईसी (LIC) के मैनेजर के कोविड पॉजिटिव मिलने के बाद हड़कंप मच गया है। मैनेजर के संपर्क में आए एलआईसी एजेंट सहित 38 लोगों का सैम्पल जांच के लिए लिया गया है। साथ सभी को होम क्वारंटाइन के निर्देश दिए गए। 6 जुलाई को जीवन बीमा कार्यालय में राजनांदगांव से नया मैनेजर ज्वाइन करने कवर्धा पहुंचा। उसी दिन खबर लगी कि उसके राजनादगांव ऑफिस का एक ऑफिस ब्वाय कोविड पॉजिटिव है। तुरंत उक्त अधिकारी कवर्धा से वापस राजनांदगांव चला गया। 10 जुलाई को मैनेजर की भी रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई। यह खबर लगते ही कवर्धा शहर में खलबली मच गई। चार दिनों के बीच एलआईसी के एजेंट के साथ करीब 38 लोग संक्रमित के प्राइमरी संपर्क में आए थे। वे अन्य लोगों से भी मिले थे। स्वास्थ्य विभाग की टीम ट्रैवल हिस्ट्री के आधार पर लोगों की जानकारी जुटा रही है। कवर्धा के एलआईसी ऑफिस को भी सील कर दिया गया है।

आपात बैठक लेकर दिए निर्देश
एलआईसी मैनेजर के कोरोना पॉजिटिव होने और कवर्धा आकर लोगों को मिलने की जानकारी मिलते ही जिला प्रशासन ने शुक्रवार की शाम को ही एक आपात बैठक बुलाई। स्वास्थ्य विभाग से लेकर तमाम अधिकारियों को आगे की रणनीति के बारे में निर्देश दिए। साथ ही व्यापारिक संगठनों के साथ भी बैठक की। दुकानों में हैंड सैनिटाइजर और मास्क अनिवार्य रूप से उपयोग करने के निर्देश दिए।

913 लोगों के रिपोर्ट आना बाकी
कवर्धा सीएमएचओ डॉ. एसके तिवारी ने बताया कि जिला स्वास्थ्य विभाग की टीम द्वारा अब तक 6308 लोगों के सैम्पल लिया जा चुका है। वहीं 2249 लोगों की जांच रैपिट कीट से भी किया जा चुका है। अब तक 5286 की रिपोर्ट निगेटिव और 111 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आ चुकी है। इसमें 110 लोग स्वस्थ्य हो चुके हैं जिसके चलते उन्हें डिस्चार्ज किया जा चुका है। वहीं अब केेवल एक महिला ही रायपुर एम्स में भर्ती है। लेकिन कोरोना का खतरा अभी टला नहीं है कि 913 लोगों की रिपोर्ट आना बाकी है।

नहीं तो होगी सुविधाओं में कटौती
व्यापारी संगठनों की मांग के आधार पर ही ठेले संचालित करने वाले का समय शाम 7 बजे से बढ़ाकर रात्रि 9 बजे किया गया है, लेकिन उन स्थलों पर कोरोना वायरस के रोकथाम और नियंत्रण के लिए जारी निर्देशों का पालन नहीं किया जा रहा है। कलेक्टर ने कहा कि दुकान संचालक और उनके कर्मचारियों द्वारा भी बिना मास्क लगाए दुकान का संचालन किया जा रहा है, यह उचित नहीं है। ऐसी स्थिति रही तो जिला प्रशासन द्वारा व्यापार संचालन के लिए दी गई सुविधाओं और समय में कटौती करते हुए धारा 144 का कड़ाई से पालन सुनिश्चित किया जाएगा।

0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post

RVKD NEWS

Ads1

Facebook

Ads2