Chhattisgarh BJP : जिलाध्यक्षों की नियुक्ति से पहले भाजपा में वर्चस्व की महाभारत

Chhattisgarh BJP : रायपुर। नईदुनिया, राज्य ब्यूरो। प्रदेश में भाजपा के 11 जिला अध्यक्षों की नियुक्ति होनी है। राजधानी रायपुर में जिला अध्यक्ष के दावेदारों के बीच जुबानी जंग शुरू हो गई है। पार्टी कार्यालय एकात्म परिसर से लेकर व्हाट्सएप ग्रुप में बड़े नेताओं पर जोरदार टिप्पणी की जा रही है। भाजपा के आला नेताओं के एक व्हाट्सएप ग्रुप "महाभारत-चक्रव्यूह" में पदाधिकारी, पूर्व पदाधिकारियों को निशाने पर ले रहे हैं।

इसमें विधानसभा चुनाव, नगरीय निकाय चुनाव और पंचायत चुनाव में हार का ठीकरा जिन नेताओं के सिर फोड़ा जा रहा है, उसमें से अधिकांश जिलाध्यक्ष पद के दावेदार हैं। आला नेताओं वाले ग्रुप में गंदे और भद्दे कमेंट को लेकर यह चर्चा शुरू हो गई है कि सत्ता से बाहर होने के बाद पार्टी का अनुशासन तार-तार हो गया है।

ग्रुप में एक कार्यकर्ता तो जिलाध्यक्ष राजीव अग्रवाल के लिए अपशब्द के साथ-साथ गालियों का भी इस्तेमाल कर रहा है। एक पदाधिकारी ने कमेंट किया-कार्यकर्ता जब तक चापलूसी करेगा, तब तक शोषित होगा। सेनापति वही जो हमेशा चौकन्ना रहे। सोशल मीडिया पर अनूप मसंद और राजीव अग्रवाल का संवाद भी वायरल हो रहा है।

इसमें राजीव अग्रवाल कह रहे हैं, हारके देखो, बहुत आनंद आता है, लेकिन यह भी सभी के भाग्य में नहीं होता है। दरअसल, भाजपा में नए जिलाध्यक्ष की दौड़ में तीन प्रमुख नेताओं के नाम आ रहे हैं। ये सभी पिछले पांच साल से जिलाध्यक्ष रहे राजीव अग्रवाल को हटाकर नए जिलाध्यक्ष की नियुक्ति की मांग कर रहे हैं। इसको देखते हुए कार्यकर्ता राजीव को निशाने पर ले रहे हैं।

मंडल कार्यकारिणी को लेकर विवाद

नए जिलाध्यक्ष की नियुक्ति से पहले कई मंडलों में कार्यकारिणी की घोषणा हो रही है। पहले तेलीबांधा मंडल की कार्यकारिणी को लेकर विवाद हुआ था। अब जवाहर नगर मंडल को लेकर विवाद शुरू हो गया है। बताया जा रहा है कि एकात्म परिसर में ही दो पदाधिकारियों का गुट आपस में भिड़ गया। एक पदाधिकारी का कहना था कि कार्यकारिणी की घोषणा नए जिलाध्यक्ष के आने के बाद किया जाए। इसको लेकर तू-तू, मैं-मैं तक हो गई।

0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post

RVKD NEWS

Ads1

Facebook

Ads2