त्यौहार पर कोरोना संकट:रायपुर में ईद-उल-अजहा की नमाज मस्जिदों में नहीं होगी, कुर्बानी के लिए भी छूट नहीं मिलेगी

  • रायपुर जिला प्रशासन ने जारी किए आदेश, कहा- भ्रामक सूचना न फैलाएं, आदेशों का सख्त पालन अनिवार्य
  • सार्वजनिक कार्यक्रमों पर भी रोक रहेगी, जमात पर पाबंदी, घर में ही अदा कर सकेंगे नमाज और दे सकेंगे कुर्बानी

कोरोनाकाल का असर त्यौहारों पर भी पड़ा है। रायपुर में मुस्लिम संप्रदाय के त्यौहार बकरीद (ईद-उल-अजहा) पर मस्जिदों में नमाज अदा नहीं की जाएगी। कुर्बानी को लेकर भी कोई छूट नहीं मिलेगी। इसको लेकर जिला प्रशासन ने आदेश जारी कर दिए हैं। रायपुर कलेक्टर की ओर से स्पष्ट कर दिया गया है कि जो आदेश पहले जारी किए गए हैं, उसी का सख्ती से पालन होगा।

जिला प्रशासन की ओर से पहले ही स्पष्ट कर दिया गया था कि लॉकडाउन के दौरान बकरीद और रक्षाबंधन में कोई छूट नहीं दी जाएगी। कलेक्टर एस. भारतीदासन ने कहा है कि भ्रामक सूचनाएं न फैलाएं। नमाज और कुर्बानी के लिए कोई छूट नहीं दी जा रही है। किसी भी तरह के सार्वजनिक कार्यक्रम नहीं होंगे। जमात पर पाबंदी है। उन्होंने कहा कि निर्धारित समयावधि में ही सीमित गतिविधियां मान्य होंगी।

रायपुर कोरोना का हॉट स्पॉट, 6 अगस्त तक लॉकडाउन
छत्तीसगढ़ में रायपुर कोरोना का हॉट स्पॉट बना हुआ है। यहां लगातार सैकड़ों की संख्या में केस आ रहे हैं। इसके चलते 23 जुलाई से लॉकडाउन किया गया है। पहले ये 28 जुलाई तक था, लेकिन फिर 6 अगस्त तक बढ़ा दिया गया। इस दौरान सिर्फ 29 व 30 जुलाई को ही किराना दुकानें खोलने की अनुमति दी गई है। रायपुर में 1361 एक्टिव केस है। मरीजों की संख्या 2504 है। इनमें 20 लोगों की मौत हो चुकी है।

0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post

RVKD NEWS

Ads1

Facebook

Ads2