राजस्थान संकट की आंच छत्तीसगढ़ तक: उमर ने कानूनी कार्रवाई की धमकी तो भूपेश बोले- सवाल तो उठाते रहेंगे

रायपुर. राजस्थान कांग्रेस में बगावत की आंच छत्तीसगढ़ और जम्मू कश्मीर की सियासत तक पहुंच चुकी है। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने सचिन पायलट की बगावत को उनके साले उमर अब्दुल्ला की रिहाई से जोड़ दिया। भड़के अब्दुल्ला ने भूपेश बघेल को अदालत में देखलेने की धमकी दी है।

जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने सोमवार को एक तीखा ट्वीट किया। अब्दुल्ला ने लिखा, मैं इस तरह के झूठे दुर्भावनापूर्ण और झूठे आरोप से तंग आ गया हूं कि सचिन पायलट जो भी कर रहे हैं वह किसी न किसी तरह से इस साल की शुरुआत में मेरे या मेरे पिता की रिहाई से जुड़ा था। अब बहुत हो गया है। भूपेश बघेल, अब मेरे वकील इस मामले को देखेंगे।

जवाब में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने भी ट्वीट किया। उन्होंने लिखा, उमर अब्दुल्ला जी, कृपया लोकतंत्र की इस त्रासद मौत को अवसर में बदलने की कोशिश न करें। यह आरोप नहीं था, बस एक सवाल पूछा गया था। एकदेश के तौर पर हम यह सवाल पूछते रहेंगे। यह विवाद एक अंग्रेजी अखबार में छपे भूपेश बघेल के एक साक्षात्कार के बाद उठा है। इस साक्षात्कार में भूपेश बघेल ने कहा है, ऐसा नहीं है कि मैं राजस्थान की घटनाओं पर इतनी बारीकी से नजर रख रहा हूं। लेकिन इससे एक उत्सुकता पैदा होती है कि उमर अब्दुल्ला को क्यों छोड़ा गया?

उन्हें और महबूबा मुफ्ती जी को कानून के एक ही खंड के तहत बद किया गया था। महबूबा मुफ्ती अभी उसी स्थिति में हैं और उमर बाहर हैं।क्या यह इसलिए हुआ कि अब्दुल्ला के सचिन पायलट साले हैं? यह विवाद क्या रूप लेता है, यह आने वाला वक्त बताया, लेकिन इसे लेकर तीन राज्यों में सियासी तापमान बढ़ना तय है।

0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post

RVKD NEWS

Ads1

Facebook

Ads2