टीआई की छवि धूमिल करने वाले पत्रकार के खिलाफ भारी आक्रोश, स्थानीय विधायक, जोन अध्यक्ष,पार्षद,नेता सहित व्यापारी संघ ने की कड़ी निंदा

रायपुर,27 जुलाई 2020। राजधानी रायपुर में खम्हारडीह थाना प्रभारी ममता शर्मा अली की छवि खराब करने वाले पत्रकार हेमंत शर्मा के खिलाफ भारी जनआक्रोश है। स्थानीय विधायक, नगर निगम के जोन अध्यक्ष,पार्षद,पूर्व पार्षद सहित व्यापारियों ने इस पूरे मामले की कड़ी निंदा करते हुए थाना प्रभारी के पक्ष में खड़े रहने की बात कही है।

आपको बता दे कि पत्रकार हेमंत शर्मा द्वारा लल्लूराम.कॉम के माध्यम से आधी-अधूरी वीडियो क्लिप काटकर,उसे दिखाकर आपराधिक षड्यंत्र रच फिल्मी स्टाइल में जनता को गुमराह कर थाना प्रभारी को टारगेट करते हुए उनकी छवि को धूमिल कर मानसिक रूप से प्रताड़ित करने का प्रयास किया जा रहा है। साथ ही पत्रकार ने राज्य के गृहमंत्री व जिले के एसएसपी के पास पहुँच झूठी शिकायत कर कार्यवाही करने दबाव भी बनाया।

इस पूरे मामले को स्पष्ट करते हुए युवतियों ने साफतौर पर कहा है कि वह खुद पत्रकार हेमंत शर्मा के विरुद्ध FIR दर्ज करवाने थाने पहुँची थी, जिस पर थाना प्रभारी के पद पर रहते हुए ममता शर्मा अली ने उन्हें इस प्रकार के मामले में कोई भी FIR और जांच करने से इनकार करते हुए न्याय के लिए कोर्ट के समक्ष प्रस्तुत होने की सलाह दी। 


क्या है पूरा मामला???

आपको ज्ञात हो कि 23 जुलाई को खम्हारडीह थाना पुलिस को सूचना मिली थी कि एक घर में कुछ युवक-युवती इकट्ठा हुए है जिसके बाद पुलिस ने दबिश देते हुए युवाओं को जन्मदिन मनाते पकड़ा, जिसके बाद सभी के खिलाफ धारा 151 के तहत कार्यवाही कर उन्हें कोर्ट में पेश किया गया जहां से युवा ज़मानत पर रिहा हो गए। उसके बाद 25 जुलाई को एक निजी न्यूज़ पोर्टल की ओर से चली एक झूठी व भ्रामक खबर जिसमे युवतियों के निजी जीवन सहित झूठे आरोप लगा उनके परिवार वालो को बदनाम करने की बात लिखी होती हैं, के खिलाफ युवतियां शिकायत करने खम्हारडीह थाना पहुँची जिसपर थाना प्रभारी ने पुलिस हस्तक्षेप अयोग्य अपराध की सूचना दर्ज कर युवतियों को कोर्ट की शरण मे जाने कहा क्योंकि इस प्रकार के अपराध की जांच कोर्ट स्वयं करता है। इस पर भड़के हुए पत्रकार हेमंत शर्मा लॉक-डाउन का उल्लंघन कर अपने तथाकथित साथियों के साथ थाने में पहुँच हंगामा करते हुए थाना प्रभारी से बदसलूकी कर उन पर अर्नगल आरोप लगा बदनाम करने की धमकी देते हुए थाना से निकल कर सीधा गृहमंत्री व जिले के एसएसपी के पास पहुँच झूठी शिकायत कर तत्काल कार्यवाही की मांग करते है। 



इस पूरे मामले में क्षेत्रीय विधायक कुलदीप जुनेजा, नगर निगम ज़ोन अध्यक्ष प्रमोद मिश्रा, पार्षद रोहित साहू, पूर्व पार्षद राकेश धोतरे,शारदा पटेल सहित अवंति विहार व्यापारी संघ के संरक्षक अशोक गुप्ता, अध्यक्ष संतोष गंगवानी,भाजपा नेता किशोर नायक सहित क्षेत्र के नागरिकों में थाना प्रभारी को लेकर पत्रकार द्वारा झूठी शिकायत करने पर भारी आक्रोश व्याप्त है। विधायक कुलदीप जुनेजा ने कहा कि ममता शर्मा अली बेहद व्यवहार कुशल है, आज तक उनके खिलाफ किसी भी प्रकार की शिकायत विधायक को प्राप्त नही हुई है। 

वही जोन अध्यक्ष प्रमोद मिश्रा ने पूरी घटना की कड़ी निंदा करते हुए दुख व्यक्त किया और कहा कि इस झूठी शिकायत से वे अचंबित है कि जो महिला थाना प्रभारी पूरी रात क्षेत्र के नागरिकों के लिए पेट्रोलिंग कर सुरक्षा व्यवस्था सम्हालती है, उन पर इस प्रकार का आरोप लगाना पूर्णतः गलत है, थाना प्रभारी ने हमेशा से ही सभी के साथ सामान्य व्यवहार करते हुए सभी की शिकायत को तत्काल संज्ञान में लेकर पुलिसिया कार्यवाही को अंजाम दिया है। 

वही व्यापारी संघ के संरक्षक अशोक गुप्ता ने कहा कि कोरोनाकाल जैसी स्थिति में भी हर वक्त थाना प्रभारी सभी नागरिकों की समस्या-विवाद सुलझाने उपलब्ध रही है, और जब से इस चौकी को थाने का दर्जा प्राप्त हुआ है,क्षेत्र में शांति-अमन-चैन का माहौल बना रहता है, यह पूरा षड्यंत्र किसी निजी स्वार्थ को पूरा करने की दृष्टि से रचा गया है।

0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post

RVKD NEWS

Ads1

Facebook

Ads2