दुर्ग में आत्महत्या:शहर के बड़े स्टील कारोबारी आनंद राठी ने फंदा लगाकर दी जान, सुसाइड नोट में लिखा- मां की बहुत याद आती है

  • कोतवाली क्षेत्र के गंजपारा इलाके की घटना, घर के कमरे में पंखे से लटकता मिला शव
  • मां की करीब डेढ़ वर्ष पहले हुआ था निधन, खुदकुशी के दौरान नशे में होने की आशंका

छत्तीसगढ़ के दुर्ग में शहर के बड़े स्टील कारोबारियों में शामिल आनंद राठी (38) ने आत्महत्या कर ली। उनका शव बुधवार तड़के उनके घर के ही कमरे में पंखे से फंदे में लटका मिला। पुलिस को मिले सुसाइड नोट में लिखा है, मां की बहुत याद आती है। आनंद की मां का करीब एक-डेढ़ साल पहले निधन हो गया था। कोतवाली पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

गंजपारा निवासी आनंद राठी और उनके परिवार का माहेश्वरी स्टील के नाम से बड़ा कारोबार है। उनकी गिनती प्रदेश के बड़े उद्योपतियों में होती है। उनके चाचा भी दुर्ग चैंबर ऑफ कॉमर्स के अध्यक्ष हैं। बताया जा रहा है बुधवार तड़के करीब 3.30 बजे उनकी पत्नी की आंख खुली। इस दौरान वह वह बेड से गायब थे।

बेडरूम का दरवाजा बाहर से बंद था, कजिन को कॉल कर बुलाया
पुलिस ने बताया कि आनंद मंगलवार को सो रहे थे। इस बीच उनकी पत्नी की आंख खुली तो बेडरूम का दरवाजा बाहर से बंद था। आनंद को वहां नहीं देख उन्होंने शोर मचाया, लेकिन कोई जवाब नहीं मिलने पर अपने कजिन को कॉल किया। उसने आकर दरवाजा खोला और तलाश शुरू की तो दूसरे कमरे में आनंद का शव मिला।

परिजन ने बताया कुछ दिन से थे परेशान
परिजन का कहना है कि आनंद कई दिनों से परेशान चल रहे थे। वहीं पुलिस के अनुसार, सुसाइड के समय आनंद नशे में थे। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद इसकी पुष्टि होगी। आनंद के दो बच्चे भी हैं। अंग्रेजी में लिखा हुआ सुसाइड नोट मिला है। इसमें अपनी मौत के लिए खुद को जिम्मेदार बताया है। बताया जा रहा है कि आनंद के पिता ने भी सुसाइड किया था।

0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post

RVKD NEWS

Ads1

Facebook

Ads2