कोरोना का ये कैसा डर:रायपुर में सड़क किनारे वृद्ध महिला पड़ी थी, एंबुलेंस ने बिना सैंपल जांच कराए ले जाने से इनकार किया, अस्पताल ने भी पल्ला झाड़ा

छत्तीसगढ़ में रायपुर के खरौरा में मंगलवार सुबह मानवता को शर्मसार करने वाला मामला सामने आया है। नहर किनारे अधमरी हालत में पड़ी एक वृद्ध महिला को 108 एंबुलेंस के कर्मचारियों ने ले जाने से इनकार कर दिया।
  • खरोरा के ग्राम बंगोली की घटना, स्थानीय लोगों ने नहर किनारे पड़ा देखा तो पुलिस और 108 एंबुलेंस को सूचना दी थी
  • कर्मचारियों के मना करने पर पुलिस ने रायपुर से एंबुलेंस बुलाकर महिला को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया

छत्तीसगढ़ में रायपुर के खरौरा में मंगलवार सुबह मानवता को शर्मसार करने वाला मामला सामने आया। नहर किनारे अधमरी हालत में पड़ी एक वृद्ध महिला को 108 एंबुलेंस के कर्मचारियों ने ले जाने से इनकार कर दिया। कर्मचारियों ने कहा कि बिना कोरोना जांच कराए वो महिला को लेकर नहीं जाएंगे। सूचना पर पहुंची पुलिस ने रायपुर से एंबुलेंस बुलवाकर महिला को खरौरा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया। 

जानकारी के मुताबिक, खरौरा क्षेत्र के ग्राम बंगोली में मंगलवार सुबह करीब 7 बजे नहर किनारे एक वृद्ध महिला पड़ी हुई थी। स्थानीय लोगों ने देखा तो पुलिस और 108 एंबुलेंस को सूचना दी। इसके बाद एंबुलेंस मौके पर पहुंच गई, लेकिन कर्मचारियों ने महिला को ले जाने से इनकार कर दिया। इस बीच पुलिस ने भी कर्मचारियों काे समझाने का प्रयास किया, पर वो बिना कोराेना जांच कराए महिला काे ले जाने के लिए तैयार नहीं हुए। 

बंगोली स्वास्थ्य केंद्र ने भी इलाज से कर दिया मना
इसके बाद थाना प्रभारी रमेश मरकाम ने रायपुर से एंबुलेंस बुलाकर महिला को खरोरा सामुदायिक स्वस्थ्य केंद्र भिजवाया। बताया जा रहा है कि महिला को पहले बंगोली के ही प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र ले जाया गया, लेकिन वहां डॉक्टरों ने उपचार करने से इनकार कर दिया। महिला की पहचान नहीं हो सकी है। ग्रामीणों का कहना है कि महिला कहां से आई, उनको जानकारी नहीं है। बताया जा रहा है कि महिला करीब 5-6 घंटे तक वहीं पड़ी रही। 

0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post

RVKD NEWS

Ads1

Facebook

Ads2