रायपुर की निकिता को मिले 98.4 परसेंट मार्क्स, ट्यूशन की बजाए घर पर की तैयारी, बनना चाहती हैं इंडियन फॉरेन सर्विस की अधिकारी

  • सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन के नतीजे जारी, प्रदेश के कई स्कूल के बच्चे टॉप लिस्ट में
  • बोर्ड की साइट पर देखा जा सकता है रिजल्ट, मार्कशीट भी ऑनलाइन देने की तैयारी में स्कूल

रायपुर. सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन (सीबीएसई) ने 12वीं का रिजल्ट जारी कर दिया। बोर्ड की तरफ से रिजल्ट को लेकर पहले से कोई तारीख का एलान नहीं किया गया था। सोमवार दोपहर के बाद नतीजे जारी कर दिए गए। स्टूडेंट्स को फोन पर टीचर्स ने सूचित किया और तब सभी ने अपने नतीजे देखे। लॉकडाउन की वजह से कुछ विषयों की परीक्षा नहीं हो पाई थी। सीबीएसई की तरफ से कहा गया है कि इन सब्जेक्ट्स का मूल्यांकन अन्य विषय में बच्चों की परफॉर्मेंस को देखकर किया गया। यह भी कहा गया है कि जो बच्चे नतीजों से संतुष्ट नहीं वो दोबारा परीक्षा दे सकेंगे। इसके लिए अगल से तारीखों का एलान हो सकता है।

निकिता बनीं टॉपर
रायपुर की निकिता ने अपने स्कूल में 98.4 प्रतिशत अंकों के साथ टॉप किया है। निकिता के पिता कुलबीर सिंह सैनी जिंदल स्टील में इंजीनियर हैं। मां कीर्ति सैनी गृहणी हैं। निकिता ने बताया कि घर पर हर दिन सभी सब्जेक्ट की थोड़ी-थोड़ी तैयारी ने कामयाबी दिलाई। सभी विषयों पर टीचर्स से लगातार डिस्कशन करते रहने की आदत ने कॉन्सेप्ट क्लीयर किया। ट्यूशन या कोचिंग जाने की जरुरत नहीं पड़ी। फैमली ने पढ़ाई के पूरा सपोर्ट किया। निकिता ने बताया कि वो यूपीएससी क्रैक करना चाहती हैं। उनकी दिल चस्पी फॉरेन अफेयर्स में है। इसलिए फॉरेन सर्विस में जाना चाहती हैं।

स्पोर्ट्स से मिला रिफ्रेशमेंट
निकिता ने बताया कि लगातार पढ़ने की वजह से बोर हो जाती थीं। ऐसे में बैडमिंटन का खेल उन्हें रिफ्रेश कर दिया करता था। सोशल मीडिया का इस्तेमाल नहीं करतीं। निकिता का मनना है कि इन चीजों से वक्त की बर्बादी होती है। हालांकि, करेंट अफेयर्स या जरूरी खबरों से अपडेट रखने के लिए इंटरनेट का इस्तेमाल करती हैं। पढ़ाई के दौरान भी अपने टॉपिक से जुड़ी जानकारियां इंटरनेट ले लेकर तैयारी करती रहीं।

0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post

RVKD NEWS

Ads1

Facebook

Ads2