नग्न हालत में प्रधान पाठक को अपने घर में देखा तो डंडे से पीट-पीटकर मार डाला, 43 दिन बाद 3 आरोपी गिरफ्तार

छत्तीसगढ़ के बलरामपुर में अधेड़ प्रधान पाठक के नग्न हालत में मिले शव की गुत्थी पुलिस ने सुलझा ली है। इस मामले में 43 दिन बाद पुलिस ने बुधवार को तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है।
  • वाड्रफगर क्षेत्र के रजखेता गांव की घटना, कुएं के पास नग्न हालत में 2 जून को मिला था शव
  • तबीयत खराब होने पर परिजनों ने सिविल अस्पताल में कराया था भर्ती, वहां से गायब हो गया था

जानकारी के मुताबिक, ग्राम जौहारी निवासी रामधनी यादव स्कूल में हेडमास्टर थे। बताया जा रहा है कि 30 मई को वे अचानक बेहोश होकर घर में ही गिर पड़े। इस पर परिजन उन्हें सिविल अस्पताल ले गए। वहां पता चला कि उन्हें ब्लड प्रेशर की दिक्कत है। इसके बाद अस्पताल में भर्ती कर लिया गया, लेकिन 31 मई की रात अचानक गायब हो गए। फिर 2 जून को रजखेता गांव में कुएं के पास उनका शव मिला था। 

शरीर पर चोट के निशान और नग्न शव मिलने से हुई हत्या की आशंका
पुलिस ने जब शव को बरामद किया तो पेट और शरीर पर चोट के निशान थे। वहीं शव नग्न हालत में था। ऐसे में पुलिस काे अवैध संबंधों में ही हत्या किए जाने का अंदेशा हुआ। जांच के दौरान रजखेता के ही सोमनाथ गौड़ को हिरासत में लेकर पूछताछ की गई ताे पता चला कि रामधनी उसके घर में नग्न हालत में मिला था। इसके बाद उसने अपने साथियों पाल सिंह व अंशु श्यामले के साथ मिलकर उसकी हत्या कर दी। 

0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post

RVKD NEWS

Ads1

Facebook

Ads2