युवा उद्यमी:मल्टीनेशनल कंपनी की नौकरी छोड़ी, सब्जी की खेती में कड़ी मेहनत के बलबूते 3 साल में कमाए डेढ़ करोड़ रु.

वर्तमान समय में युवा खेती छोड़कर डॉक्टर, इंजीनियर और मैनेजमेंट की डिग्री हासिल कर बड़े शहरों और विदेशों में अच्छे जॉब के सहारे आरामदायक जिंदगी बिताना चाहते हैं। ऐसे समय में दुलदुला का युवक मल्टीनेशनल कंपनी का लाखों रुपए का सालाना पैकेज छोड़कर गांव में खेती कर रहा है। युवक ने कड़ी मेहनत के बलबूते ही तीन वर्ष में अपनी सालाना कमाई डेढ़ करोड़ रुपए कर ली है। खेती से अपनी जिंदगी संवारने के अलावा वह अब गांव के 20 लोगों को रोजगार दे रहे हैं।

जशपुर जिले के दुलदुला विकासखंड के छोटे से गांव सिरिमकेला निवासी अरविंद साय एमबीए करने के बाद पुणे की एक मल्टीनेशनल कंपनी में जॉब कर करियर की शुरुआत की। कुछ साल कंपनी में काम करने के बाद उनके मन में कुछ अलग करने का आया और लाखों का पैकेज छोड़ कर सीधे अपने गांव लौट आए। पिता को पारंपरिक खेती करते देखा तो उन्होंने अपने गांव में ही रहते हुए कुछ अलग करने की सोची और अपनी पुश्तैनी जमीन पर उन्होंने खेती किसानी शुरू कर दी।

मक्का,अरहर की खेती को दे रहे बढ़ावा

अरविंद कुनकुरी विधानसभा क्षेत्र के दुलदुला, फरसाबहार के किसानों को मक्का और अरहर की खेती के लिए जागरूक कर रहे हैं। इसका असर भी नजर आ रहा है। पिछले साल मक्का की बोनी 651 हेक्टेयर और अरहर 2369 हेक्टेयर थी। इस वर्ष मक्के की खेती 1721 हेक्टेयर वही अरहर को 4069 एकड़ जमीन पर बोआई हुई है।

0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post

RVKD NEWS

Ads1

Facebook

Ads2