एम्स के 3 नर्सिंग स्टाफ समेत प्रदेश में 114 नए मरीज, 2 मौतें, वेतन काटने से नाराज अंबेडकर अस्पताल के सफाईकर्मियाें की हड़ताल

रायपुर में 12 नए केस, प्रदेश में अब तक 22 की हो चुकी है मौत

रायपुर. प्रदेश में मंगलवार को रायपुर में 12 समेत कोरोना के 114 नए मरीज मिले हैं। रायपुर में बैजनाथपारा व दुर्ग के कोरोना संक्रमित दो बुजुर्गों की मौत हो गई। दोनों मरीजों का इलाज अंबेडकर अस्पताल में चल रहा था और निजी अस्पताल से रिफर किए गए थे। अंबेडकर के चेस्ट विभाग के एचओडी डॉ. आरके पंडा ने कोरोना से दो लोगों की मौत की पुष्टि की है। यह प्रदेश में 22वीं मौत व रायपुर में चौथी मौत है। नए मरीजों में बिलासपुर, सुकमा व नारायणपुर से 18-18, सरगुजा 12, बलरामपुर 8, राजनांदगांव से 7, कोंडागांव से 3, कोरबा, कांकेर व रायगढ़ में 2-2, दंतेवाड़ा, दुर्ग, गरियाबंद, जशपुर, बस्तर व सूरजपुर से एक-एक मरीज मिले हैं। दुर्ग के जिस बुजुर्ग की मौत हुई, उसे निमोनिया था। इस कारण फेफड़ों में पानी भर गया था। बैजनाथपारा के जिस बुजुर्ग की मौत हुई, वे हार्ट के मरीज थे। दूसरी ओर वेतन काटे जाने से नाराज अंबेडकर अस्पताल के सफाईकर्मियों ने हड़ताल की। रायपुर में पिछले तीन-चार दिन बाद थाेड़ी राहत रही और कम केस सामने आए।

पिछले दो दिनों में रविवार काे 96 व साेमवार काे 90 मरीज मिल चुके हैं। मंगलवार को संक्रमित होने वालों में एम्स के 3 नर्सिंग स्टाफ के अलावा डीकेएस सुपर स्पेश्यालिटी अस्पताल के स्टाफ को कोरोना पॉजिटिव होने की पुष्टि हुई है। दोनों ही अस्पतालों में लगातार संक्रमण के नए मामले आ रहे हैं। प्रदेश में मरीजों की संख्या 4,381 हो गई है। वहीं एक्टिव केस 1,082 है। अब तक 3,275 मरीज डिस्चार्ज हो चुके हैं। रायपुर में जो मरीज मिले हैं, उनमें कर्षण मोवा से दो, श्रीनगर, बैरनबाजार, आमानाका, टाटीबंध, हीरापुर, बिरगांव, भनपुरी व निमोरा के मरीज मिले हैं। 12 में 5 लोग ऐसे हैं, जो मरीजों के संपर्क में आने से संक्रमित हुए हैं। महापौर एजाज ढेबर के भाई की 24 वर्षीय बेटी की रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई है। एम्स के डॉक्टर समेत नर्सिंग स्टाफ लगातार संक्रमित हो रहे हैं। यही हाल डीकेएस का है। वहां संक्रमित मरीजों के संपर्क में आने वाला स्टाफ भी ड्यूटी कर रहा है। आमानाका में मिला मरीज ड्राइवर है। बस्तर में भी लगातार मरीजों की संख्या बढ़ रही है। सुकमा में 18 जो संक्रमित हुए हैं, वे सभी सीआरपीएफ के जवान हैं। वहीं कोंडागांव के चार में दो पेशे से डॉक्टर हैं। इनमें एक महिला डॉक्टर के माता-पिता की रिपोर्ट भी पॉजिटिव है। बस्तर में लगातार मरीज बढ़ने से स्वास्थ्य विभाग की चिंता बढ़ गई है। राज्य में सबसे अंत में सुकमा में मरीज मिला था, लेकिन अब वहां लगातार संक्रमित मिल रहे हैं। इनमें वे जवान भी शामिल हैं, जो हाल में छुट्‌टी पर घर गए थे। वहां से लौटने के बाद उनके स्वाब की जांच करवायी गई। टेस्ट में उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव निकली। सभी संक्रमितों को अस्पताल में भर्ती करने प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। देर रात तक मरीजों को अस्पताल पहुंचाया जा रहा था।

सैंपल कलेक्शन सेंटर बढ़ेंगेे: सिंहदेव
"सभी सीएमएचओ से कहा है कि स्वाब कलेक्शन सेंटर बढ़ाया जाए, ताकि लोगों को दिक्कत न हों। वर्तमान में जिला अस्पताल, सीएचसी, शहरी पीएचसी में सैंपल कलेक्शन की सुविधा है। अब पीएचसी में भी सैंपल लिया जाएगा।"
-टीएस सिंहदेव, स्वास्थ्य मंत्री

0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post

RVKD NEWS

Ads1

Facebook

Ads2