छत्तीसगढ़ : अनलॉक-2 का 23वां दिन:दुर्ग, बिलासापुर समेत 6 जिलों में आज से लॉकडाउन; रायपुर में लोगों की मनमानी, पुलिस देखी तो घर में, नहीं तो सड़क पर गपशप, 3 गिरफ्तार

ये तस्वीर रायपुर के कालीबाड़ी चौक की है। पुलिस सुबह से ही मुस्तैद है। सख्ती की जा रही है, लेकिन लोग फिर भी बहाने बनाकर बाहर निकल रहे हैं।
  • प्रदेश का हॉट स्पॉट बने रायपुर में जनता ही समझने को तैयार नहीं, शाम ढलते ही कई इलाके में शुरू हो जाती है युवाओं की अड्डेबाजी
  • बिलासपुर में देर शाम बाजार में उमड़ी भीड़, साेशल डिस्टेंसिंग हुई ध्वस्त, दुर्ग में सुबह पुलिस का मार्च, प्रदेश के 14 जिलों में अब लॉकडाउन

कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों ने छत्तीसगढ़ के 14 जिलों को लॉकडाउन करा दिया है। दुर्ग, बिलासपुर और दंतेवाड़ा सहित 6 जिलों में भी गुरुवार से लॉकडाउन हो गया है। इससे पहले बुधवार से रायपुर समेत सरगुजा, रायगढ़ के सारंगढ़ और बलौदाबाजार में जरूरी सेवाओं को छोड़कर सब बंद कराया जा चुका है। स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव भी कह चुके हैं, लॉकडाउन से कोरोना नहीं रुकेगा, लोगों को नियम मानने होंगे। बावजूद इसके लोग मानने को तैयार नहीं हैं। 

ये तस्वीर रायपुर के टिकरापारा की है। लॉकडाउन के बाद भी लोग सड़कों पर नए-नए बहाने कर बाहर निकल रहे हैं। ऐसे में पुलिस भी अब सख्त हो गई है।

रायपुर : कंटेनमेंट जोन से ही बाहर आकर घूमते हैं लोग
हॉट स्पॉट बन चुके रायपुर में ही लोगों की मनमानी जारी है। शाम ढलते ही कई इलाकों में युवाओं की अड्‌डेबाजी शुरू हो जाती है। गली-मोहल्लों में ही नहीं, बल्कि मुख्य सड़कों पर ऐसे हालात हैं। डगनिया, महादेव घाट रोड, सुंदर नगर, ब्राह्मणपारा, कटोरा तालाब, तेलीबांधा, शंकर नगर, समता कॉलोनी जैसी जगहों पर रात तक युवाओं का जमावड़ा लगा रहता है। इन इलाकों में पुलिस देखते ही लोग घरों में घुस जाते हैं, नहीं तो बाहर गपशप चलती रहती है। 

तमाम कोशिशों और समझाने के बाद भी जब लोग नहीं मान रहे तो पुलिस ने सख्त रूख अपना लिया है। रायपुर के सिविल लाइंस में लॉकडाउन के उल्लंघन करने पर तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया।

प्रशासन की ओर से सबसे ज्यादा पॉजिटिव मरीज मिलने के बाद मंगल बाजार और भाठागांव में सख्ती की गई है। यहां आने-जाने पर पूरी तरह से रोक है। बैरिगेट्स लगाए गए हैं। इन इलाकों में कोई बाहर से नहीं जाता, लेकिन अंदर से बैरिगेट पार कर लोग जरूर बाहर घूमते हैं। मंगल बाजार और आमापारा के बीच इसे आसानी से रोज देखा जा सकता है। हालांकि पुलिस ने सख्ती दिखाते हुए सिविल लाइंस क्षेत्र से बुधवार देर शाम तीन युवकों को गिरफ्तार किया है। 

दुर्ग : सुबह से पुलिस की गश्त, घर से बाहर बहाना नहीं, सिर्फ कार्रवाई
दुर्ग-भिलाई और 17 गांवों में गुरुवार से लॉकडाउन लग चुका है। इसको लेकर जवानों ने सुबह मार्च किया। प्रशासन का दावा है कि इस बार लॉकडाउन पहले से ज्यादा सख्त होगा। घरों से निकलने वालों का कोई बहाना नहीं चलेगा। पुलिस सीधे कार्रवाई करेगी। दोपहर 12 बजे तक सब्जी, फल, चिकन, मटन की दुकान खुलेंगी। किराना दुकान और हाइवे के ढाबे भी बंद रहेंगे। मेडिकल स्टोर शाम 5 बजे के बाद बंद किए जाने के आदेश दिए गए हैं।

ये तस्वीर भिलाई की है। सुबह से ही पुलिस और प्रशासन की टीम शहर के चौराहों पर निकल आई है। प्रशासन की ओर से स्पष्ट कर दिया गया है कि इस बार सख्ती पहले से ज्यादा होगी।

दुर्ग जिले में यहां लॉकडाउन

  • दुर्ग निगम क्षेत्र के हनोदा, धनोरा, चिखली, कोलिहापूरी, अंजोरा, खपरी व महमरा
  • भिलाई की खेदामरा, रिसाली की डूमरडीह व उमरपोटी
  • चरोदा की आंधी 
  • पालिका क्षेत्र जामुल की ढ़ौर
  • पाटन की अमलेश्वर व सांकरा
  • कुम्हारी की पंचदेवरी व अकोला 
  • अहिवारा, उतई और धमधा नगर पालिका में लॉकडाउन प्रभावी रहेगा।  भिलाई में पुलिस ने सुबह मार्च किया। इस दौरान बड़ी संख्या में महिला पुलिसकर्मी भी स्कूटी पर निकलीं। मुख्य मार्गों के साथ ही शहर के हर गली में नजर रखने के लिए जवान जा रहे हैं। 

बिलासपुर : लॉकडाउन से पहले ही ध्वस्त हुए नियम
शहर में गुरुवार सुबह से लॉकडाउन कर दिया गया है। बिलासपुर नगर निगम क्षेत्र सहित बिल्हा और बोदरी नगर पंचायत में लॉकडाउन रहेगा। प्रशासन की ओर से सब्जी, दूध और किराना दुकानों को खोलने के लिए दोपहर 12 बजे तक की छूट दी गई है। बावजूद इसके बुधवार देर शाम तक शहर के बाजारों में इतनी भीड़ उमड़ी की सारे नियम-कायदे और कोरोना का डर ध्वस्त हो गया। सब्जी मंडी से लेकर बाजारों तक में जाम की स्थिति रही। 

ये तस्वीर बिलासपुर के बृहस्पति बाजार में बुधवार देर शाम की है। गुरुवार से शहर में लॉकडाउन शुरू हो गया है। दुकानें दोपहर 12 बजे तक खुली रहेंगी। बावजूद इसके एक दिन पहले ही सारे नियमों की धज्जियां उड़ा दी गईं।

बेमेतरा : सख्ती, फिर भी जारी है मनमानी 
शहर में सामान्य दिनों की तरह लोगों की आवाजाही होती रही। दूसरे दिन भी सदर बाजार में सोना-चांदी की दुकान व कृषि पंप व किराना दुकान की आड़ में व्यवसायी दूसरा व्यापार करते रहे। पान-ठेले तक खुले रहे। व्यापार व्यवसाय सामान्य दिनों की तरह चलता रहा। शहर में 2 अगस्त तक लॉकडाउन के आदेश जारी किए हैं। इस दौरान सिर्फ किराना दुकान, पेट्रोल पंप, मेडिकल स्टोर व दूध डेयरी सुबह 8 बजे से लेकर शाम 4 बजे तक खुलने के आदेश हैं। 

इन जिलों में भी आज से लॉकडाउन

  • कोरबा : जिले में कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए 28 जुलाई रात 12 बजे तक लाॅकडाउन रहेगा। अति आवश्यक सेवाओं के लिए सुबह 6 से 10 बजे तक का समय तय किया गया है।
  • मुंगेली : यहां भी 28 जुलाई रात 12 बजे तक लॉकडाउन रहेगा। मुंगेली, लोरमी, पथरिया तीनों विकासखंड में लॉकडाउन प्रभावी होगा। इसको लेकर कलेक्टर पीएस एल्मा ने आदेश जारी किया है। 
  • अंबिकापुर : यहां पर पहले भी लॉकडाउन किया गया था। मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए इसे बीच-बीच में बंद किया जाता है। अब लॉकडाउन 29 जुलाई 2020 की रात 12 बजे तक रहेगा।
  • दंतेवाड़ा : नगर पालिका क्षेत्र बचेली, किरंदुल, दंतेवाड़ा, गीदम, बारसूर में 29 जुलाई रात 12 बजे तक लॉकडाउन रहेगा। दुकानें, व्यवसायिक प्रतिष्ठान, गोदाम, साप्ताहिक हाट-बाजार बंद रहेंगे। हालांकि फल, सब्जी, दूध, ब्रेड, मटन, मछली की दुकानें सुबह 9 बजे से 2 बजे खुलेंगी। 

अब यहां भी होगा लॉकडाउन

  • बालोद : सभी 8 शहरी क्षेत्र बालोद, दल्लीराजहरा, गुंडरदेही, डौंडी, गुरुर, डौंडीलोहारा, अर्जुन्दा, चिखलाकसा में 23 जुलाई की रात 12 बजे से 29 जुलाई रात 12 बजे तक लॉकडाउन रहेगा। किराना दुकानें सुबह 7 से दोपहर 2 बजे तक खुली रहेंगी। 
  • राजनांदगांव : जिले में 23 जुलाई की रात 12 बजे से 29 जुलाई की रात 12 बजे तक लॉकडाउन रहेगा। आवश्यक वस्तुओं की दुकानें सुबह 6 से 10 बजे तक ही खुली रहेंगी।
  • जांजगीर-चांपा : जिले के 15 नगरीय क्षेत्रों में 24 जुलाई से लॉकडाउन लगाने की घोषणा की गई है। ये लॉकडाउन 7 दिनों तक 30 जुलाई तक लागू रहेगा। जिला कलेक्टर ने इसके आदेश जारी कर दिए हैं।
  • कोंडागांव : यहां पर  शहरी क्षेत्र में 25 से  31 जुलाई तक लॉकडाउन रहेगा। इस दौरान आवश्यक सेवाओं को छोड़कर सभी दुकानें बंद रहेंगी। कलेक्टर पुष्पेंद्र कुमार मीणा ने इसकी पुष्टि की है। 

छत्तीसगढ़ में कोरोना संक्रमित छह हजार
छत्तीसगढ़ में कोरोना के मामले लगातार बढ़ने लगे हैं। प्रदेश में अभी तक संक्रमित मरीजों की संख्या 5999 पहुंच गई है। इनमें 29 मरीजों की मौत हो चुकी है। जबकि एक्टिव केस 1740 हो गए हैं। हालांकि 4230 मरीजों के स्वस्थ होने के बाद उन्हें अस्पताल से छुट्‌टी दे दी गई है। वहीं रायपुर में अब तक 1402 संक्रमित मिल चुके हैं। इनमें 10 की मौत हो गई, जबकि एक्टिव केस 715 हैं। 

0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post

RVKD NEWS

Ads1

Facebook

Ads2