नवविवाहिता का अपहरण कर 3 दिन तक किया बलात्कार, ऐसे चंगुल से छूटी पीड़िता

21 वर्षीय पीड़िता गत 19 मई की देर रात शौच के लिए घर से बाहर निकली थी. इसी दौरान गांव के ही भैयालाल ने अपने साथी हरिदयाल पोर्ते की मदद से उसका अपहरण (Kidnapping) कर लिया. फिर एक मकान में ले जाकर तीन दिन तक दुष्कर्म (Rape) किया.

कोरबा. छत्तीसगढ़ के कोरबा में नवविवाहिता का अपहरण (Kidnapping) कर तीन दिन तक उसके साथ दुष्कर्म (Rape) करने का मामला सामने आया है. इस मामले में मुख्य आरोपी सहित अपहरण में सहयोग करने वाले दो अन्य लोगों के खिलाफ केस (Case) दर्ज किया गया है. पुलिस आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी कर रही है.

शौच के लिए निकली थी पीड़िता 

जानकारी के अनुसार पसान थानाक्षेत्र में 21 वर्षीय पीड़िता गत 19 मई की देर रात शौच के लिए घर से बाहर निकली थी. इसी दौरान गांव के ही भैयालाल ने अपने साथी हरिदयाल पोर्ते की मदद से महिला का अपहरण कर लिया. गमछा से महिला का मुंह बांधकर उसे उठाकर जंगल की ओर लेकर चले गये. जहां उसके साथ भैयालाल ने बलात्कार किया. इसके बाद भैयालाल व हरिदयाल ने मिलकर महिला को गांव के मुख्य सड़क तक लाया, जहां इनका सहयोगी शिवशंकर मोटरसाइकिल लेकर मौजूद था. मोटरसाइकिल पर महिला को जबरन बिठाया गया और वहां से ग्राम कारीछापर स्थित एक मकान में ले जाया गया. उस मकान में भैयालाल ने जान से मारने की धमकी देकर व गाली-गलौज करते हुए महिला के साथ अगले दो दिन तक दुष्कर्म किया.
पिता-भाई ने चंगुल से छुड़ाया 

पीड़िता के मुताबिक उसने किसी तरह वहां से अपने भाई और पिता से संपर्क किया. वे दोनों किसी तरह कारीछापर स्थित उस मकान में पहुंचे, जिन्हें देखकर तीनों आरोपी वहां से भाग निकले. पीड़िता ने अपने पिता व भाई के साथ मंगलवार को थाना पहुंचकर घटना की रिपोर्ट दर्ज कराई है
पीड़िता ने बताया कि भैयालाल ने उसके साथ तीन दिनों तक दुष्कर्म किया. जबकि उसके साथी हरिदयाल और शिवशंकर ने इस काम में उसका सहयोग किया. पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कर गिरफ्तारी में जुटी है.

0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post

RVKD NEWS

Ads1

Facebook

Ads2