महासमुंद : सम्मानित होकर डॉक्टरों और मेडिकल स्टाफ ने कहा- कोरोना की लड़ाई में हमारा जोश दोगुना कर दिया

 भारतीय रेडक्राॅस समिति की जिला इकाई के अध्यक्ष कलेक्टर श्री सुनील कुमार जैन के मार्गदर्शन में शताब्दी वर्ष शुक्रवार 08 मई 2020 को विश्व रेडक्राॅस दिवस पर राष्ट्रीय एवं राज्य स्तर पर मिली थीम के अनुसार जिला चिकित्सालय महासमुंद में विभिन्न कार्यक्रम आयोजित कर किए गए। साथ ही चिकित्सकीय अमले से कोरोना वॉरियर्स को सम्मानित कर उनकी हौसला-अफजाई करने के साथ-साथ एक दिवसीय रक्तदान शिविर भी आयोजित किया गया। सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए समिति के दिग्गज एवं अनुभवी सदस्यों ने अपने विचार रखे और जिले भर से एकत्र चुनिंदा स्वास्थ्यकर्मियों को गुलाब के पुष्प भेंट कर आभार व्यक्त किया। विगत शताधिक वर्षों से चिकित्सा सेवा क्षेत्र में अभूतपूर्व योगदान के लिए जाने विश्वव्यापी प्रतिष्ठित रेडक्राॅस समिति ने जम कर तालियां बजाते हुए कोरोना को हराने में लगे वॉरियर्स को अनूठे तरीके से सलामी दीजिससे परिसर का कोना कोना गड़-गड़ाहट से गूंज उठा।।इस दौरान सुबह करीब 11 बजे रेडक्राॅस समिति के पदाधिकारी जिला चिकित्सालय पहुंचे और कोरोना ओपीडीब्लड बैंक एवं डायलीसिस यूनिट सहित परिसर का पूरा चक्कर लगाया। कोरोना वायरस नियंत्रण एवं रोकथाम आपातकालीन सेवाओं में जुटे चिकित्सकस्टाफ नर्स,लैब टेक्नीशियनपैरा मेडिकल स्टाफआरबीएसके दल सहित पुलिस विभाग एवं सिक्योरिटी सर्विसेज के कर्मठ वाॅरियर्स से बारी-बारी मिल कर सम्मानित करते गए। अंतिम दौर में विशालकाय घेरा बना कर कोरोना को हराने के लिए उंचे स्वर में जोशीले नारे लगाते हुए कोरोना मुक्त महासमुंद का शुभकामना संदेश प्रेषित किया गया। चिकित्सकीय अमले और सलाहकारों के दल ने भी आयोजनकर्ताओं का तहे दिल से शुक्रिया अदा किया।

 

  उल्लेखनीय है कि रेडक्राॅस समिति की जिला इकाई के अध्यक्ष कलेक्टर श्री जैन के प्रतिनिधी के रूप में उपस्थित अपर कलेक्टर श्री आलोक पांडेय द्वारा संबोधन में कहा गया कि निसंदेह महासमुंद के कोरोना वाॅरियर्स अपनी लगन और कर्तव्यनिष्ठा के लिए धन्यवाद के पात्र हैं। इनकी बदौलत ही जिला अब तक कोविड 19 के संकट से बचा हुआ है।ं कार्यक्रम में उपस्थित भारतीय रेडक्राॅस समिति की जिला इकाई के सभापति श्री एके शुक्लाउप सभापति श्रीमती अनीता रावटेवरिष्ठ सदस्य श्रीमती सती साहू ने भी विगत सौ वर्ष पूर्व सन 1920 में पूरी दुनिया में फैल कर करोड़ों लोगों को असामयिक काल की गर्त में समा देने वाले बनी स्पैनिश फ्लू की त्रासदी का उद्वरण देकर उबरने के लिए किए गए रेडक्राॅस द्वारा किए गए प्रयास और सहभागिता के बिंदुओं पर प्रकाश डालकोविड 19 की महामारी से भी सकुशल बच निकलने की बात कही। इस दौरान श्रीमती रावटे द्वारा कोरोना वायरस नियंत्रण एवं रोकथाम के लिए मौके पर ही सौ वितरित कर एक हजार मास्क और प्रदान करने की घोषणा की गई। वरिष्ठ समाजसेवी श्री दाउलाल चंद्राकर ने आगे भी इसी तरह आपसी सहयोग और समन्वय के साथ डंटे रहने की बात दोहराई।

 

स्वास्थ्य विभाग की ओर से मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ एसपी वारे ने आयोजकर्ताओं का आभार व्यक्त करते हुए धन्यवाद ज्ञापित किया। सिविल सर्जन सह मुख्य अस्पताल अधीक्षक डाॅ आरके परदल द्वारा रेडक्राॅस की महत्ता पर प्रकाश डालते हुए बताया गया कि रेडक्राॅस सोसायटी की स्थापना सर हेनरी ड्यूनाॅट द्वारा युद्ध में पीड़ित सौनिकों की सेवा एवं मानवीय दृष्टिकोंण के आधार पर की गई थी। हर साल 08 मई को उनके जन्म दिन पर यह उत्सव विश्व रेडक्राॅस दिवस के रूप में मनाया जाता है।

 

इस दौरान मंच संचलान में जिला कार्यक्रम प्रबंधक श्री संदीप ताम्रकार ने दूरी बनाते हुए भी सभी को एक लय में बांधे रखा। डॉ वाईएम मेमनश्रीमती अरुणा शुक्ला,श्री संदीप दीवान कोरोना वायरस नियंत्रण एवं रोकथाम दल के नोडल अफसरों में डॉ आई नागेश्वर राव एवं डॉ अनिरुद्ध कसारआरबीएसके टीम से आयुष चिकित्सा अधिकारी डाॅ देवंद्र साहू व अस्पताल सलाहकार डाॅ निखिल गोस्वामी सहित श्री जीपी चंद्राकर का विशेष योगदान रहा। जूनियर रेडक्राॅस महासमुंद के जिला संगठक व सचिव श्री अशोक गिरी गोस्वामी एवं उनके दल द्वारा कोरोना वायरस संक्रमण से निपटने के लिए कई स्थानों पर जागरूकता लाने का कार्य किया गया और हैंड सैनिटाइजर एवं मास्क इत्यादि का वितरण कर स्वस्थ व सुरक्षित रखने के तरीके सिखाए गए। कार्यक्रम में स्वयं सेवी श्री अजय राजासुश्री प्रभा पण्डानवजीवन प्रेरक व सामाजिक कार्यकर्ता सुश्री अनुजा छत्तर एवं पुलिस बाल मित्र सुश्री रोशना डेविड सहित श्री प्रमोद कन्नौजेश्री कुणाल दास मानिकपुरी एवं श्री जयंत गायकवाड़ सहित अन्य उपस्थित रहे।

0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post

RVKD NEWS

Ads1

Facebook

Ads2